जल निगम के बारे में

गठन
मध्यप्रदेश शासन द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में जल प्रदाय हेतु समूह जल प्रदाय योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु 06 जून 2012 को मध्यप्रदेश जल निगम मर्यादित का गठन किया गया है। मध्यप्रदेश जल निगम मर्यादित, कार्यालय द्वितीय तल, ’घ’ विंग, विन्ध्याचल भवन, भोपाल में दिनांक 01/09/2012 से प्रारंभ किया गया।

विजन
सतही स्त्रोत आधारित योजनाओं के माध्यम से परिवार स्तर पर नल कनेक्शन द्वारा सुरक्षित एवं पर्याप्त मात्रा में पेयजल तथा उद्योग हेतु अषोधित जल की उपलब्धता एवं, जलमल (सीवरेज) का सुरक्षित निष्पादन।

मिशन
नल जल सबके लिए।

मुख्य उदेद्श्य
1. राज्य के ग्रामीण परिवारों को सुरक्षित पेयजल पर्याप्त मात्रा में सुविधाजनक स्थान पर परिवार स्तर पर नल कनेक्शन द्वारा उचित वितरण व्यवस्था के साथ वर्ष भर उपलब्धता सुनिश्चित करना।
2. शहरी/नगरीय/ग्रामों की नलजल योजनाओं की परिकल्पना, रूपांकन, प्राक्कलन, निविदा प्रपत्र निर्माण, निविदाएं आमंत्रण, कार्यादेश, क्रियान्वयन, पर्यवेक्षण तथा अनुश्रवण।
3. भू-गर्भीय तथा तथा सतही जल संसाधनों का संयुक्त उपयोग सुनिश्चित् करना।
4. राज्य की ग्रामीण नलजल योजनाओं का संचालन एवं संधारण सुनिश्चित करने हेतु ग्राम पेयजल समितियों के गठन उनमें जल के प्रति सामाजिक तथा पर्यावरणीय चेतना विकसित करने में सहयोग प्रदाय करना।
5. नगरीय क्षेत्रों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में उत्सर्जित होने वाले जल मल के निकास एवं उपचार की योजनाओं का आकल्पन एवं क्रियान्यवन करना।
6. पेयजल प्रदाय योजनाओं एवं जल मल निकास योजनाओं के क्रियान्वयन से संबधित नीतिगत निर्णय हेतु राज्य स्तर पर शीर्ष संस्था के रूप में कार्य करना।

Help-Desk